सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

नवंबर, 2020 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

popads

Featured post

गोकुल धाम सोसाइटी में चुदक्कड़ परिवार- 2

 हॉट सेक्सी वाइफ की चुदाई तारक मेहता का उल्टा चश्मा की गोकुल धाम सोसाइटी में कैसे हुई. जवान बेटी के सामने भिड़े और माधवी ने खुलकर सेक्स किया. दोस्तो, मैं कबीर पटेल, आप मेरी सेक्स कहानी में भिड़े और माधवी की चुदाई का मजा ले रहे थे. हॉट सेक्सी वाइफ की चुदाई कहानी के पहले भाग लॉकडाउन में माधवी की अन्तर्वासना में अब तक आपने पढ़ा था कि माधवी अपने पति भिड़े के लंड को चूस रही थी, जिससे भिड़े का लंड तन्ना उठा था, मगर वो अभी भी माधवी के मुँह में अपना लंड चला रहा था. अब आगे हॉट सेक्सी वाइफ की चुदाई: थोड़ी देर और माधवी का मुँह चोदने के बाद जब भिड़े ने अपना सख्त लंड उसके मुँह से निकाला तो माधवी ने थोड़ी चैन की सांस ली और वो फिर से भिड़े के लंड पर बैठ गयी. उसने भिड़े के लंड को एक और बार अपनी चूत में समा लिया. माधवी की चुत को मानो जन्नत मिल गई थी. वो अपनी गांड आगे पीछे करती हुई लंड की सवारी का मजा लेने लगी. अभी उन दोनों की चुदाई दोबारा चालू किए हुए कुछ ही मिनट हुए थे कि तभी सोनू अपने कमरे से बाहर निकल आई. आखिरकार वही हुआ, जिसका भिड़े को डर था. सोनू ने अपने आई और बाबा को चुदाई करते हुए देख लिया था. वो सोनू को द

Mari Naukrani

 Mari Naukrani Dear Cyberfriends.sex stories reader, It is a very true story of me, (JUST BELIEVE OR LEAVE) first of all I want to give intro of myself I m 22 years living in Karachi 6 feet n 2 inches tall (only) (FTBH) Fair Tall Broad Handsome. It happens to me only few days back and i want to share my lucky time with all my cyber friends, and now the story begins: it was a Cool Tuesday night and I was alone in my home with my governess (RANDI, NAUKRANI, MAASI, PROSTITUTE). On that day I was not feeling well and I was lying on my bed and talking with my GF on phone. After that she came into my room n said “SAFAI KARNI HAI” I replied her carry on n I was talking with my GF. When she was cleaning my computer table I felt that she was not in cleaning mode n my thought was correct she asked me “MUJHE FONE PER BAAT KARNI HAI” I replied her to wait for 15 mins and she was still standing behind me, I asked her “SAFAI KARO JALDI MUJHKO JANA HAI, SHE REPLIED MUJHE BAAT KARNI HAI ZARORI FONE PE

Sexy Mansooba

Sexy Mansooba Main, Ishrat aik khoobsurat aur pur kashish larhkee Karachi kay aik college main inter main parhtee hoon. Apnee phuppo kay han Refae Aam Malir gaee howee thee aur maira mamool tha keh kabhee kabhar unkay han jathee thee kuch denon kay leyay. Mairee phuppo kee do baityan aur aik baita that aur hamaree apas main bohat hee dostee thee. Usdin main apnay college kay white uniform main Malir halt per bus say uthar kay phuppo kay ghar ja rahee thee. Main phupoo kee galee main thee aur rozanah usee galee say jathee thee. Kafi faslah thaa aur garmee bhee shadeed thee. Paseenay main doobhee huwee jarahee thee kah galee hee main aik ghar kay darwazay per aik larkee ko daikha jo keh shayad kissee ka intezar kar rahee thee. Mainay nay usay pehlee bar dekha thaa aur door say hee bohat haseen lag rahee thee. Khair main joonhee uskay qareeb aiee to usnay mujhay muskura kar apnee taraf anay ka isharah keya. Main uskay pass chalee gaiee. Usnay mujhay kaha keh keya main aik book Nosheen ko

Doctor's Affair

 Doctor's Affair i am reader of this site since long times. I really enjoy the stories here. I also like to share my story with all u peoples. Well my name is ahmed and i m from karachi Pakistan. It all happened by a net chat when i met her a lady doctor aged 27 married with no kids and her hubby used to work as marketing manager in a good organization. Well with our chat we had normal conversations daily and we were in contacts of each other in msn ( khiguywaiting@hotmail.com) and soon started to exchange mails and regular chats at fixed timings. As she was lonely so she joined a nearby hospital to work n get herself busy in life . We used to chat daily and shared about each other many n many things together and became close fiends. As we had seen each other on msn by pictures exchange. Slowly just in a week she became bold with me in all sense and shared with me her secret life as well then i came to know that she was sexually hungry as her hubby used to be mostly away and normal

Road Per Sexy Aunty

Road Per Sexy Aunty hi friend i am the biggest fan of this website. today i m going to tell u the true incident which occurs six months ago. i m naveed 23 m karachi. this story i m going to tell u in urdu so those who can't read englsih can easily read and understand when lives turn around. so now come to the point ek din mein ghar se nikla or road per pedal walk ker raha tha ke achanak ek gari aakar ruki or us mein ek aunty bethi hoi thi age taqrreban 33 ho gi us ney mujh sey ek address pocha mein ney usey batdya lekin woh kheney lagi key kia aap merey sath chal saktey hey kyu kein mein new hoon is lien mujhey rastoon ka pata nahi hey mein ney pheley to mana ker diya socha pata nahi kon hey kahi mujhey agawa kerney ke chaker mein to nahi hey lekin us ney kha ke plzz agar aap aghey to barii mehrbani ho gi phir mein ney socha pata nahi shahid waqai zaroratmand ho yeh soch ker beth gaya us ney front seat ka darwaza khola or kha key aap merey sath tariq road cheley or mujhey dolmen ce

ससुर जी की जवानी

 ससुर जी की जवानी कोमल ki शादी को दो साल हो चुके थे. बचपन से ही कोमल बहुत खूबसूरत थी. १६ साल की उम्र में ही जिस्म खिलने लग गया था. सोलहवां साल लगते लगते तो कोमल की जवानी पूरी तरह नीखर आई थी. ऐसा लगता ही नहीं था की अभी १०थ् क्लास में पर्ती है. School की स्किर्ट में उसकी भरी भरी जांघें लड़कों पे कहर ढाने लागी थी. School के लड़के skirt के नीचे सी झाँक कर कोमल की पैंटी की एक झलक पाने के लीये पागल रहते थे. कभी कभार जब बास्केटबाल खेलते हुए या कभी हवा के झोंके सी कोमल की स्किर्ट उठ जाती तो किस्मत वालों को उसकी पैंटी के दर्शन हो जाते. लड़के तो लड़के, School के Teacher भी कोमल की जवानी के असर से नहीं बचे थे. कोमल के भारी नितम्ब, पतली कमर और उभरती चूचियां देखके उनके सीने पे चहुरियन चल जाती. कोमल को भी अपनी जवानी पे नाज़ था. वो भी लोगों का दिल जलाने में कोई कसर नहीं छोड़ती थी. उनीस साल की होते ही कोमल की शादी हो गई. कोमल ने शादी तक अपने कुंवारे बदन को संभाल के रखा था. उसने सोच रखा था की उसका कुंवारा बदन ही उसके पति के लीये सुहाग रात को एक उन्मोल तोह्फहोगा. सुहाग रात को पति का मोटा लम्बा लंड देख कर

Bhabhi ne kaam karvayaa

 Bhabhi ne kaam karvayaa Bat un dino ki hai jab mai 15-16 saal ka tha. Mera family Ahmedabad city me rehta tha. City ke mohalle aur galiya agar pata ho to bilkul ek dusre se jude huye hote hai. Bas ek ya do manzil hoti hai aur har koi ek-durse ke ghar me tak-zank bi kar sakta hai. Ghar bi purane hote hai. Yani punani darare wali khidkiya aur darwaje jo pure band bi nahi ho sakte. Aise mauhol me bache bi jyada shayane ho jate hai jo mai bi ho chukka tha. Ghar bi chhote chhote ek ya do room wale hote hai. Yani rat ko mummy-papa ya bhai-bhabhi kuch kare to jurur dekh sakate hai au raise sex-education jaldi mil jata hai. Aise sthiti me hum dosto ko bi jyada kuch dekhane ka chaska laga rehta. Aur rat ko kai bar hum padosi ke gharo me zank kar unki ... bi dekha karte the. Haan, ek bat hai. Vaha unity bahut hoti hai aur har koi ek-dusre ke kaam ata hai. Jab ahmedabad me riot huye the tab ki bat hai. Mera ek dost sensitive area me rehta tha. Vo mere sath padhata tha. Vo apne bhai, bhabhi, aur

बडी बहेन और उनकी प्रेमी

आज मैं अपको अपने दिदि के चुदै कि एक ऐसि कहनि सुनने जा रहा हु जिसे सुन कर अपका मन भि किसि लदकि के सथ सेक्स करने का होने लगेगा।मैं जो कहनि सुनने जा रहा हु वो मेरे दिदि कि उनके परेमि के सथ हुये सेक्स कि है जिसे मैने अपने अखो से देखा था। इसके पहले कि मैं अपना कहनि सुनना सुरु करु मैं अपका इनत्रो दिदि और उनके परेमि से करा दु। मेरि दिदि जिनकि उमर तिस साल कि है। एक लमबि गोरि और हेअलथी होने के साथ हि एक ऐसि औरत है जिनको हर रोज एक नये पुरुस कि तलस रहति है। लेकिन इसके सथ हि वो अपने परेमि को जो कि एक लमबा हनदसोमे और समर आदमि है। उसकि उमर तेतिस साल कि है। दिदि उस्से बेहद पयर करति है। मेरि दिदि एक परिवते ओरगनिज़तिओन मे कम करति है। जिजजि भि एक परिवते सोमपोनि मे कम करते है।मैं दिदि से मिलने अकसर जया करता था। दिदि मेरे घर के पास हि रहथि। एक दिन मैं जब दिदि के रूम पेर गया तो जिजा जि को दिदि से अपने ओफ़्फ़िसे के कम से कहि जाने कि बात करते हुए सुना। दिदि ने जिजा जि से पुछा कि कब जना है। जिजा जि ने बतया कि उनको सतुरदय को एक दिन के लिये जना है। दिदि का रेअसतिओन देख कर मैं उसि वकत समझ गया थकि कुछ होने वला है। स

लेबल

ज़्यादा दिखाएं